12 Dec

कोहरा भी सेवा सेतु केअपने काम के प्रति निष्ठा को प्रभावित नहीं करता!

सेवा सेतू ने अपने कार्य क्षेत्र का विस्तार कर नेपाल के सटे पश्चमी चंपारण जिले में भी काम शुरू कर दिया है| सबेयाँ,जोगिया और महुई पंचायत का सर्वे किया जा रहा है| जल्द ही इन पंचायतों के सभी विकलांग लोगों को चिन्हित कर उन्हें पेंशन और उपकरण दिलाने में मदद किया जायेगा| वृहस्पतिवार को सबेयाँ पंचायत के मुखिया शकील खां के साथ सयुंक्त अभियान चला कर 21 विकलांग लोगों को बेतिया रेड क्रॉस में चिकित्सक बोर्ड से जाँच कराया गया| सबेयाँ पंचायत में 41 विकलांग लोगों को चिन्हित किया गया है जिन्हें अभी कोई सरकारी सुविधा नहीं मिल रही है| गौरतलब है कि प्रखंड स्तर पर वर्ष में एक बार कैम्प लगा कर विकलांगता प्रमाण पत्र बनाया जाता है फिर भी सूचना के आभाव में कई लोग प्रमाण पत्र नहीं बनवा सके हैं|
जिला मुख्यालय रामनगर से 55 किलोमीटर दूर है| लोगों को वहां तक ले जाने में काफी परेशानी हो रही है| फिर भी आगामी 15 दिसंबर को जोगिया और महुई पंचायत से 33 लोगों को जाँच के लिए ले जाया जाएगा|

15356736_1126378137461249_4759022009010727194_n

Nishant Ojha
Author: Nishant Ojha

Leave a Reply